Lifestyle

Amla Juice Ke Fayde in Hindi | आमला जूस के फायदे और नुकसान

आमला का इस्तेमाल केवल शरीर को हेल्दी रखने के लिए यह नहीं बल्कि कई बीमारियों से बचाने के लिए भी किया जाता है कई लोग अपने डाइट में हमला को शामिल करते हैं क्योंकि यह वजन घटाने में भी सहायक है। अमला का सेवन इसका जूस, अचार या जैम बनाकर किया जाता है। बता दें कि अधिकतर लोग आमला जूस का ही इस्तेमाल करते हैं, जिसका इस्तेमाल पानी के साथ किया जाता है। यदि अमला जूस के फायदे और आमला जूस के नुकसान के बारे में आप जान गए, तो यह आपके लिए काफी फायदेमंद होगी।

आमला जूस के फायदे – Benefits of Amla Juice in Hindi

आमला में विटामिन सी की मात्रा पाई जाती है। कई बीमारियों में इसे औषधि के रूप में भी लिया जाता है। यह हमारे शारीर, बाल अथवा त्वचा के लिए फायदेमंद है। अमला जूस के फायदे कई प्रकार के हैं, जिसे निम्नलिखित रूप से देखा जा सकता है –

१. त्वचा के लिए फायदेमंद

आमला का खाली पेट सेवन करने से चेहरे पर निखार आता है। इसके अलावा आमला जूस का प्रयोग चेहरे पर दाग धब्बे या रिंकल्स के होने वाले नुकसान से भी बचाता है। यदि आप अपनी त्वचा को साफ रखना चाहते हैं, तो इसके रस को रुई के द्वारा अपने चेहरे पर लगाएं। यह दाग धब्बों से भी छुटकारा दिलाता है।

२. कब्ज की समस्या से राहत

आमला पेट से संबंधित बीमारियों को दूर करने के लिए बहुत ही फायदेमंद है। ये कब्ज, एसिडिटी, अपच आदि से छुटकारा दिलाता है। इतना ही नहीं आमला का जूस इस्तेमाल करने से यह पेट के कीड़े को भी मारता है और पेट साफ करता है।

३. वजन कम करने में सक्षम

आमला का रस शरीर को डिटॉक्स करता है अथवा विषैले पदार्थों को शरीर में रुकने नहीं देता है। यदि आप अपने वजन को कम करना चाहते हैं तो आमला का रस सुबह खाली पेट गुनगुने पानी के साथ लें। यह वजन कम करने के लिए बहुत ही लाभदायक है।

४. आंखों के लिए जरूरी

आमला का जूस आंखों के लिए फायदेमंद है। आमला का जूस सेवन कर आंखों को स्वस्थ रखा जा सकता है। यह आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी मदद करता है और अगर आपकी आंखों में पानी या खुजली जैसी दिक्कत है, तो वह उसे भी कम करता है।

५. डायबिटीज को दूर करने में सक्षम

यदि डायबिटीज की समस्या है तो आमले का जूस बनाकर उसका सेवन करें। इसमें क्रोमियम तत्व पाए जाते हैं जो कि हार्मोंस को मजबूत करके शुगर लेवल को कंट्रोल करता है। यह डायबिटीज के खतरे को कम करने के लिए सहायक है। गिलोय अमला जूस बेनिफिट्स के अंतर्गत बता दें कि गिलोय आमला जूस भी किसी भी तरह से कम नहीं है। यह डायबिटीज को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

६. चेहरे के सूजन को कम करने में मदद

अगर आप रोजाना आमला के जूस का सेवन करेंगे तो आपके चेहरे पर आने वाली सूजन दूर हो सकती है क्योंकि इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। इसलिए यह गुण होने की वजह से आमले का जूस चेहरे के सूजन को दूर करने के लिए सहायक है।

आमला जूस कब पीना चाहिए – When to Drink Amla Juice

आयुर्वेद के अनुसार फलों में ऐसी औषधीय गुण मौजूद होती है, जो बड़े से बड़े रोगों को दूर करने में सहायक होता है। बात करें आमला की तो अमला जूस के फायदे कई प्रकार के हैं, लेकिन अमला जूस कब पीना चाहिए इसकी जानकारी होना बेहद जरूरी है। जैसा कि हम सभी जानते हैं सुबह के समय हमारे शरीर में पूरी तरह से ताजगी भरी रहती है और मन फ्रेश रहता है।

बात करें इस सवाल की कि आमला जूस कब पीना चाहिए तो बता दें कि आमला जूस पीने के कई तरीके होते हैं एवं कुछ शर्तें होती हैं जिससे आमला जूस के फायदे अधिक होते हैं। आमला जूस का सेवन करने के लिए सुबह का समय सबसे उत्तम होता है। सुबह के समय हमारा शरीर ताजगी से भरपूर होता है। इसलिए शोध के मुताबिक कहा जाता है कि सुबह के समय आमला का जूस पीना सेहत के लिए काफी लाभदायक होता है।

आमला जूस पीने का सही तरीका – Right Way to Drink Amla Juice

आमला जूस पीने का सही तरीका के बारे में काफी कम लोग जानते हैं, जिससे आधी अधूरी जानकारी रहती है और यह अधूरी जानकारी सेहत के लिए घातक साबित हो सकती है। कई बार हम बिना किसी मात्रा के आमले का जूस का इस्तेमाल करते हैं, जो हानिकारक होता है। आमला जूस पीने का सही तरीका की बात करें तो बता दें कि १० मिलीग्राम आमला जूस लेकर इसे पानी में मिला दें। अब पानी मिलाकर इसका जूस तैयार कर लें।

आप चाहें तो १० मिलीग्राम की मात्रा को बढ़ाकर २० मिलीग्राम भी कर सकते हैं लेकिन ध्यान रहे इससे अधिक आमला की मात्रा नहीं होनी चाहिए वरना सेहत के लिए खतरनाक हो सकता है। गुनगुने पानी में दो से तीन चम्मच आमला का जूस मिला लें और इसका सेवन करें। दिन में दो बार भी १०-१० मिलीग्राम करके आमला जूस का सेवन कर सकते हैं।

आमला जूस के नुकसान – Disadvantages of Amla Juice

यहां बता दें कि amla juice benefits in hindi बताने के साथ-साथ कुछ ऐसी जानकारी भी है, जिसकी जानकारी आपके लिए आवश्यक है। अमला जूस के फायदे के साथ साथ आमला जूस के नुकसान भी हैं। आइए जानते हैं आमला जूस के नुकसान के बारे में। ऐसे तो आपने सुना होगा कि आमला और आमला जूस के बहुत सारे फायदे हैं लेकिन इन शर्तों के मुताबिक इसके नुकसान भी हैं, जो निम्नलिखित हैं –

१. कब्ज की समस्या

आमला जूस के अधिक सेवन करने से आपको कब्ज की समस्या हो सकती है क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में फाइबर होता है। अगर आपको आमला का सेवन करना है तो इसमें आपको आमला के जूस में पानी मिलाकर ज्यादा मात्रा में पानी का सेवन करना होगा ताकि आपको कब्ज की समस्या का सामना नहीं करना पड़े।

२. ब्लड प्रेशर प्रभावित

खास करके किडनी की समस्या से ग्रस्त व्यक्ति को आमला जूस का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे शरीर में सोडियम का स्तर बढ़ जाता है और शरीर अपना काम सुचारू रूप से नहीं कर पाती है। जानकारी के लिए बता दें कि इससे शरीर के अंदर पानी भरना शुरू हो जाता है, जिससे कि ब्लड प्रेशर की समस्या बढ़ सकती है।

३. यूरिन में जलन

आमला जूस का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से आपके मूत्र में जलन हो सकती है अथवा कई लोग तो आमला जूस का सेवन करने से मूत्र में दुर्गंध का भी अनुभव करते हैं क्योंकि आमला में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है।

४. लिवर में नुकसान

आमले का ज्यादा सेवन करने से लिवर में सीरम ग्लूटामिक पाइरुविक ट्रांसएमिनेस की मात्रा बढ़ जाती है जिससे आपकी पाचन क्रिया बाधित हो जाती है। याद रहे कि आमला जूस का सेवन अदरक के साथ कभी ना करें क्योंकि इससे सीधा आपके लीवर पर असर हो सकता है।

५. एसिडिटी

अगर आप आमला को खाली पेट खाएंगे तो आपको एसिडिटी की समस्या हो सकती है। जैसा कि आप जानते हैं आमला प्राकृतिक रूप से एसिडिक होता है, जिससे पेट की समस्या हो सकती है।

निष्कर्ष

आमला में मिनरल्स, फाइबर और विटामिन की भरपूर मात्रा मौजूद होती है। प्रतिदिन इसका सेवन करने से यह शरीर को बड़ी से बड़ी बीमारियों से छुटकारा दिलाता है। इसके इलावा अमला और भी कई सारे गुणों का राजा हैं।

आमला जूस का सेवन करने से बड़ी से बड़ी बीमारियां जड़ से खत्म हो जाती है बस जरूरत है तो अमला जूस कब पीना चाहिए और आमला जूस पीने का सही तरीका के बारे में। प्रतिदिन सुबह के समय आमला जूस का सेवन शरीर को स्वस्थ और तंदुरुस्त बनाता है।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Posts